Breaking News

शबे मेअ़राज पर देशवासियों को ग़ौसे आज़म फाउंडेशन ने दिया मुबारकबाद, ग़रीबों को बांटा जाएगा खाना

जयपुर / गोरखपुर। इस्लामी मान्यता के अनूसार आज की रात रहमत व बरकत वाली रात है। इसे शबे मेअराज कहा जाता है। इस मुबारक रात का ज़िक्र कुरआन शरीफ़ और हदीसों में अनेकों स्थान पर मौजूद है।

ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हज़रत मौलाना मोहम्मद सैफुल्लाह ख़ां अस्दक़ी ने शबे मेअराज पर देशवासियों को ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के लेटर पर मुबारकबाद दिया और कहा कि आज की रात पेशावर मौलवियों, पीरों, मुजाविरों की सेवा करने से बचें और अपनी जायज़ कमाई को ग़रीबों में तक़सीम करें और इसमें इबादत करें, अपनी मस्जिदों के इमामों की जायज़ ज़रूरतों को पुरी करें तथा देश दुनिया में अमन चैन के लिए दुआएं करें।

हज़रत मौलाना मोहम्मद सैफुल्लाह ख़ां अस्दक़ी ने बताया कि ग़ौसे आज़म फाउंडेशन आज की बाबरकत रात (शबे मेअराज) में रात 8 बजे के बाद ग़रीबों को खाना बांटेगा और उनकी दुआएं लेगा। इस नेक काम को ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के जिला अध्यक्ष समीर अली, जिला महासचिव हाफिज मोहम्मद अमन, रहमतनगर अध्यक्ष मोहम्मद फ़ैज़, मिर्ज़ापुर अध्यक्ष मोहम्मद इमरान, अहमद नगर चकसा हुसैन अध्यक्ष वारिस अली वारसी, हाफिज महमूद रज़ा क़ादरी, मोहम्मद ज़ैद मुस्तफ़ाई, सैफ हाशमी, मोहम्मद आरिफ, रियाज़ अहमद, मोहम्मद शारिक, अमान अहमद, मोहम्मद ज़ैद (चिंटू), सैफ अली अंसारी, अहसन खान, सरफ़राज़ अंसारी आदि अंजाम देंगे।

Check Also

सभी समस्याओं का समाधान यहां हैः मौलाना मोहम्मद सैफुल्लाह ख़ां अस्दक़ी

*सभी समस्याओं का समाधान यहां हैः मौलाना मोहम्मद सैफुल्लाह ख़ां अस्दक़ी* *अपने परिवार, रिश्तेदार, दोस्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *