Breaking News

ग़रीब लड़की को ग़ौसे आज़म फाउंडेशन ने 51 हज़ार 7 सौ 86 रूपये दिया

राष्ट्रवादी एनजीओ, ग़ौसे आज़म फाउंडेशन बहुत ही कम समय में बहुत बड़े-बड़े काम कर चुका है और पुरे भारत में ग़रीबों और हक़ीक़ी ज़रूरतमंदों की अनेकों प्रकार से मदद कर चुका है और इं शा अल्लाह! आगे भी अनेकों प्रकार से भारत के असहाय लोगों की मदद करता रहेगा। पुरे भारत में ग़ौसे आज़म फाउंडेशन लगातार किसी न किसी हक़ीक़ी ज़रूरतमंद की मदद कर रहा है। इसी क्रम में कर्नाटक की एक ग़रीब बेटी की शादी के लिए ग़ौसे आज़म फाउंडेशन ने उस ग़रीब लड़की को 51 हज़ार 7 सौ 86 रूपये दिया। एक मिक्सर और एक प्रेस भी दिया।

ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के संस्थापक व राष्ट्रीय अध्यक्ष हज़रत मौलाना मोहम्मद सैफुल्लाह ख़ां अस्दक़ी, चिश्ती, क़ादरी ने कहा कि ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के कामों को देखकर काबा शरीफ़, मदीना शरीफ़, मज़ाराते औलिया आदि पवित्र मज़हबी जगहों पर ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के सदस्यों और सहयोगियों के लिए दुआएं होती रहती हैं और राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने भी प्रशंसा पत्र दिया है और आज घर घर में ग़ौसे आज़म फाउंडेशन द्वारा किए जाने वाले कामों का चर्चा हो रहा है। अस्दक़ी ने कहा कि जब ग़ौसे आज़म फाउंडेशन ग़रीब बेटी की शादी के लिए मदद दे रहा था तो मैं अपने दिल ही दिल में दुआएं कर रहा था कि ऐ मेरे अल्लाह! इस नेक काम के सदक़े राजस्थान में आग उगलती गर्मी से लोग परेशान हो चुके हैं। तू रहमतों वाली बारिश बरसा और हम सबको इस आग उगलती गर्मी से निजात अ़ता फरमा।‌

ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के सहयोगी, बाबा मोहम्मद ख़लील क़ादरी ने कहा कि जैसाकि आपको पता ही होगा कि सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त ग़ौसे आज़म फाउंडेशन हक़ीक़ी ज़रूरतमंदों की आए दिन अनेकों अनेक प्रकार से मदद कर रहा है और ग़रीबों की दुआएं ले रहा है। कर्नाटक की ग़रीब बेटी की शादी के लिए 51 हज़ार 7 सौ 86 रूपये देने के बाद, अब ज़िला गोरखपुर, उत्तर प्रदेश की एक ग़रीब बेटी की शादी के लिए तय्यारी कर रहा है और अभी तक दस हज़ार रूपये, एक प्रेस और बर्तनों के 36 सेट ग़ौसे आज़म फाउंडेशन जमा कर चुका है।

ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के शास्त्री नगर के अध्यक्ष मौलाना अमानुरर्हमान रज़वी ने कहा कि माशा अल्लाह! जन्मदिन या शादी सालगिरह पर भी अपने पैसों से हक़ीक़ी ज़रूरतमंदों की मदद करना ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के सदस्यों का मिशन बन चुका है। अपने जन्मदिन/ शादी सालगिरह वग़ैरह पर अपनी मेहनत की कमाई को बर्बाद नहीं करेंगे बल्कि हक़ीक़ी ज़रूरतमंदों की मदद करने में लगाएंगे।

ग़ौसे आज़म फाउंडेशन की मुख्य ट्रस्टी श्रीमती सबीहा सैफुल्लाह ने अल्लाह की बारगाह में दुआ किया कि ऐ हमारे अल्लाह! ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के तमाम सदस्यों और सहयोगियों के जान व माल, रोज़ी रोज़गार में बेपनाह बरकतें अ़ता फरमाए और यूं ही हक़ीक़ी ज़रूरतमंदों की मदद करने की तौफीक़ अता फरमा।

इस मौक़े पर ग़ौसे आज़म फाउंडेशन के सुलेमान अली सुलेमानी, अबदुल रफीक़, रेहान रज़ा, मोहम्मद ख़ालिद सैफुल्लाह, मोहम्मद आज़ाद, सिराजुद्दीन ख़ान, मोहम्मद इलयास, मोहम्मद ओसामा सैफुल्लाह आदि मौजूद थे।

Check Also

सभी समस्याओं का समाधान यहां हैः मौलाना मोहम्मद सैफुल्लाह ख़ां अस्दक़ी

*सभी समस्याओं का समाधान यहां हैः मौलाना मोहम्मद सैफुल्लाह ख़ां अस्दक़ी* *अपने परिवार, रिश्तेदार, दोस्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *